No rain for 20 days, if water does not come in two days, then there will be loss, 70% of crops are on the verge of drying up, flowers have fallen | 20 दिन से बारिश नहीं, दो दिन में पानी नहीं आया तो होगा नुकसान, 70% फसलें सूखने की कगार पर, झड़ गए फूल


  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • No Rain For 20 Days, If Water Does Not Come In Two Days, Then There Will Be Loss, 70% Of Crops Are On The Verge Of Drying Up, Flowers Have Fallen

खंडवा3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
मक्का की फसल पर इस तरह कीट लग रहे हैं, जबकि सोयाबीन, मूंगफली की फसलें मुरझाने लगी हैं। - Dainik Bhaskar

मक्का की फसल पर इस तरह कीट लग रहे हैं, जबकि सोयाबीन, मूंगफली की फसलें मुरझाने लगी हैं।

बारिश की लंबी खेंच से खेतों में खड़ी फसलें मुरझाने व सूखने लगी हैं। खड़ी फसल से फूल झड़ रहे हैं। 20 दिन से फसलों को पानी नहीं मिला है, अगर एक या दो दिन में बारिश नहीं होती है तो जिले की 70% फसल नष्ट हो जाएगी।

मानसून की देरी के चलते जिले के किसान दूसरी बार बोवनी कर बेहतर उत्पादन की उम्मीद में थे, लेकिन पिछले 20 दिनों से बारिश नहीं होने से उनकी चिंता बढ़ गई है। जिले में इस साल 3.18 लाख हेक्टेयर में खरीफ फसलों की बोवनी हुई है। इसमें पहली बार की बोवनी में सबसे अधिक 2.25 लाख हेक्टेयर रकबा सोयाबीन का था लेकिन मानसून की देरी से 1.50 लाख हेक्टेयर फसल खराब हाे गई। किसानों ने दूसरी बोवनी की तो फिर वही हालात बनने लगे हैं। इस संबंध में किसान व उनका प्रतिनिधि मंडल दो बार कलेक्टर से मिलकर जिले को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग कर चुका है। किसान छैगांवमाखन उद्वहन सिंचाई योजना के तहत बनने वाली नहर से भी पानी की मांग कर चुके हैं।

प्याज हो सकती है खराब

जिले में खंडवा, पंधाना, छैगांव, हरसूद व पुनासा तहसील में फसलें अधिक प्रभावित हुई है। खंडवा व पंधाना तहसील में वर्तमान में 1 लाख हेक्टेयर में प्याज की फसल लगी है। बारिश की लंबी खेंच से पत्तियां सूखने लगी है।

पटवारी हड़ताल पर, सर्वे भी नहीं हुआ

भाकिसं के जिलाध्यक्ष धरमचंद पटेल ने बताया इस साल किसानों को दोहरी मार झेलनी पड़ रही है। पहली बार फसलें खराब हुई थी जिसका सर्वे अब तक नहीं हुआ। वर्तमान में किसान ऐसी ही स्थिति से गुजर रहे हैं। इधर पटवारी हड़ताल पर हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*