Hearing the problems of 350 complainants, CM assured of action; Seeing good mood of CM, officials breathed a sigh of relief | 350 फरियादियों की समस्याएं सुन सीएम ने दिलाया कार्रवाई का भरोसा; सीएम का मूड अच्छा देख अधिकारियों ने ली राहत की सांस


गोरखपुर17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
सीएम के जनता दरबार में गोरखपुर सहित प्रदेश के विभिन्न जिलों से करीब 350 से अधिक फरियादी पहुंचे। - Dainik Bhaskar

सीएम के जनता दरबार में गोरखपुर सहित प्रदेश के विभिन्न जिलों से करीब 350 से अधिक फरियादी पहुंचे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर में अपने दो दिनों के दौरे पर हैं। शनिवार की सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नित्य दिनचर्या के बाद यहां गोरखनाथ मंदिर में जनता दरबार लगाया। हिंदू सेवाश्रम और यात्री निवास में लगे जनता दरबार में योगी ने फरियादियों की समस्याएं सुनी और उन्हें कार्रवाई का भरोसा दिलाया। इस दौरान सीएम के जनता दरबार में गोरखपुर सहित प्रदेश के विभिन्न जिलों से करीब 350 से अधिक फरियादी पहुंचे।

सीएम के टारगेट पर नहीं आए अधिकारी
सीएम योगी आदित्यनाथ एक-एक कर फरियादियों के पास गए। सबकी समस्या सुनने के साथ प्रार्थना पत्र लेकर अधिकारियों को कार्रवाई का निर्देश भी दिया। हालांकि इस बार के जनता दरबार की खास बात यह रही कि कोई भी अधिकारी सीएम के टारगेट पर नहीं आया और न ​ही कोई गंभीर शिकायत उनके सामने पहुंची। जनता दरबार का कार्यक्रम सकुशल संपन्न होने के बाद अधिकारियों ने राहत की सांस ली।

हर मामले में अधिकारियों को मॉनिटरिंग का निर्देश
हर बार की तरह इस बार भी सीएम के पास पहुंचने वाली शिकायतों में अधिकांश शिकायतें पुलिस से जुड़ी जमीनी विवादों की पहुंची। उन्होंने वहां मौजूद एडीजी, कमिश्नर, डीएम, डीआईजी और एसएसपी को ऐसे मामलों को गंभीरता से लेकर खुद उसकी मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया। हालांकि इस दौरान सीएम अपने मंदिर में शिकायतों का निस्तारण करने वाले एक अधिकारी पर थोड़ा नाराज दिखे। वहीं, इस बार गोरखपुर में नए डीएम और एसएसपी होने की वजह से अधिकारियों को किसी तरह की कोई फटकार नहीं लगी। ​सीएम ने सिर्फ उन्हें जरूरी दिशा निर्देश दिया।

सीएम ने गायों को चना और गुड़ खिलाया। इसके साथ ही योगी ने अपने नए स्वॉन गुल्लू को भी दुलारा।

सीएम ने गायों को चना और गुड़ खिलाया। इसके साथ ही योगी ने अपने नए स्वॉन गुल्लू को भी दुलारा।

अधिकारियों ने कस रखी थी कमर
हालांकि इस बार के जनता दरबार को लेकर पुलिस प्रशासन पहले से ही काफी सतर्क था। लगातार कई बार से सीएम की नाराजगी देख कार्यक्रम से पहले ही अधिकारियों ने इसके लिए पूरी तरह कमर कस ली थी। लिहाजा इस बार कोई गंभीर शिकायत उनके सामने नहीं पहुंची। वहीं, इससे पहले मंदिर में मुख्यमंत्री की दिनचर्या परंपरागत रही।

सुबह उन्होंने सबसे पहले नाथ पंथ के आदि गुरु गोरक्षनाथ के दरबार में हाजिरी लगाई और फिर अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ के समाधि स्थल पर जाकर उनका आशीर्वाद लिया। मंदिर परिसर का भ्रमण करने के क्रम में मुख्यमंत्री हमेशा की तरह गोशाला गए और करीबा आधा घंटा गायों के बीच गुजारा। इस दौरान सीएम ने गायों को चना और गुड़ खिलाया। इसके साथ ही योगी ने अपने नए स्वॉन गुल्लू को भी दुलारा।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*