Due to moisture, the day temperature increased by 4 degrees in 24 hours, the rainy season is now from 17 to 17 | नमी के कारण कहीं-कहीं खंड वर्षा, 24 घंटे में दिन का तापमान 4 डिग्री बढ़ा, बारिश का दौर अब 17 से


  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Due To Moisture, The Day Temperature Increased By 4 Degrees In 24 Hours, The Rainy Season Is Now From 17 To 17

रतलाम2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • शुक्रवार को मौसम खुला, दिन-भर खिली रही धूप
  • दोपहर में निकली तेज धूप, अब तक बारिश का 64.26% काेटा पूरा, पिछले साल से भी अब तक 5.23 इंच बारिश ज्यादा हुई

जिले में अब मानसून ब्रेक आ गया है यानी लगातार हो रही बारिश पर ब्रेक लग गया है। हालांकि अभी भी शहर में खंड वर्षा सभी को चौंका रही है। यानी कभी अचानक से कुछ दूरी पर ही एक क्षेत्र में पानी बरस रहा है तो दूसरा क्षेत्र पूरी तरह सूखा है। ऐसा नमी के कारण हो रहा है। इधर, अब 17 अगस्त से नया सिस्टम बनेगा। 18 या 19 अगस्त से बारिश के आसार बन रहे हैं।

शहर में शुक्रवार को मौसम पूरी तरह खुल गया। सुबह से ही तेज धूप होने लगी जाे शाम तक रही। धूप के कारण मौसम में भी गर्माहट आ गई। अधिकतम तापमान 4 डिग्री बढ़ गया, वहीं न्यूनतम तापमान में भी 0.6 डिग्री की बढ़त हो गई। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 31.2 डिग्री व न्यूनतम तापमान 24.2 डिग्री रहा, जबकि गुरुवार को अधिकतम तापमान 27.2 डिग्री व न्यूनतम तापमान 23.6 डिग्री रहा था। सुबह को आर्द्रता 90 व शाम को 78 प्रतिशत रही।

रतलाम में अब तक 23.23 इंच बारिश- इधर, रतलाम में अब तक 23.23 इंच बारिश हो गई है। इससे सालभर की सामान्य बारिश का 64.26% कोटा पूरा हो गया है। जिले में सालभर में 36.15 इंच बारिश होती है। अब तक पिछले साल से भी 5.23 इंच बारिश ज्यादा हो चुकी है। पिछले साल अगस्त मध्य तक 18 इंच बारिश दर्ज की गई थी।

पिछले साल अगस्त के पहले पखवाड़े तक 18 इंच बारिश जिले में हुई थी, इस बार मानसून की मेहरबानी सावन में बनी रही

17 को बनेगा लो प्रेशर सिस्टम

मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया अब 17 अगस्त को लो प्रेशर का सिस्टम बनेगा। तब तक कभी-कभी हल्की बारिश होने के आसार बने हुए हैं। 18 अगस्त से असर दिखना शुरू हो जाएगा। अच्छी बारिश के आसार बने हुए हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*