Coimbatore traders did not return Rs 66 lakh after purchasing onion-garlic from Ratlam trader, criminal case registered at Station Road police station | रतलाम के व्यापारी से कोयंबटूर के व्यापारियों ने प्याज-लहसुन खरीद कर नहीं लौटाए 66 लाख रुपए, स्टेशन रोड थाने पर अपराधिक प्रकरण दर्ज


  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Coimbatore Traders Did Not Return Rs 66 Lakh After Purchasing Onion garlic From Ratlam Trader, Criminal Case Registered At Station Road Police Station

रतलामएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

रतलाम के एक प्याज लहसुन व्यापारी के साथ कोयंबटूर के व्यापारियों ने 66 लाख रुपए के प्याज -लहसुन खरीद कर धोखाधड़ी की है। पीड़ित व्यापारी की शिकायत पर रतलाम के स्टेशन रोड थाने में कोयंबटूर के व्यापारियों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया गया है । रतलाम के नजमी ट्रेडर्स के मोहम्मद नासिर ने नवंबर 2020 से जनवरी 2021 तक कोयंबटूर के प्याज लहसुन व्यापारियों को 28 गाड़ी प्याज और लहसुन भेजा था। जिसके ढाई करोड़ रुपए के भुगतान में से व्यापारी को 1 करोड़ 80 लाख रुपए ही प्राप्त हुए हैं। शेष बचे रुपयों के लिए पीड़ित व्यापारी ने कोयंबटूर के कई चक्कर लगाने के बाद मामले की शिकायत स्टेशन रोड थाने पर दर्ज करवाई। मामले की जांच प्रारंभ कर दी है ।

दरअसल रतलाम के प्याज लहसुन व्यापारी और कमीशन एजेंट मोहम्मद नासिर ने तमिलनाडु के कोयंबटूर के व्यापारियों को करीब 28 गाड़ी प्याज और लहसुन अक्टूबर 2020 से जनवरी 2021 तक सप्लाई किया था। जिस के करीब ढाई करोड़ रुपए के भुगतान में से एक करोड़ 81 लाख रुपए आरोपियों द्वारा भुगतान भी कर दिया गया था। शेष बकाया 66 लाख रुपयों के भुगतान के लिए नोटरी एग्रीमेंट कर आरोपी व्यापारियों ने नासिर को कोयंबटूर से लौटा दिया। जिसके बाद बार-बार संपर्क करने पर भी आरोपी मोहम्मद इशाक खान ,शफी बिस्ती और फारुख खान पीड़ित मोहम्मद नासिर के रुपए नहीं लौटा रहे हैं। जिसके बाद पीड़ित व्यापारी ने इसकी शिकायत रतलाम की व्यापार के दस्तावेजों के साथ स्टेशन रोड थाने पर की है। जिस पर पुलिस ने धारा 406 के अंतर्गत प्रकरण दर्ज कर लिया है।

बहरहाल 66 लाख रुपए की धोखाधड़ी के मामले में स्टेशन रोड थाना पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच प्रारंभ कर दी है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*