The relatives came to find the girl living in live-in with the married youth, both of them absconded before reaching the police | शादीशुदा युवक के साथ लिव-इन में रह रही युवती को ढूंढ़ने पहुंचे परिजन, पुलिस पहुंचने से पहले ही दोनों हुए फरार


सिरोहीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
लॉकेशन के आधार पर मकान पर दबिश देकर युवक-युवती को पकड़ने गई पुलिस। - Dainik Bhaskar

लॉकेशन के आधार पर मकान पर दबिश देकर युवक-युवती को पकड़ने गई पुलिस।

बाड़मेर के बालोतरा से 157 किलोमीटर का सफर कर परिजन सिरोही के कोतवाली लिव-इन में रहने वाले युवक-युवती को तलाशते हुए पहुंचे। कोतवाली पुलिस ने भी लोकेशन के आधार पर मकान पर दबिश दी, लेकिन इससे पहले दोनों वहां से फरार हो गए।

बालोतरा थानाधिकारी बाबूलाल रेगर ने बताया कि बालोतरा निवासी फखरुद्दीन की 24 वर्षीय बेटी घर से बिना बताए कहीं चली गई। काफी तलाश के बाद भी नहीं मिलने पर परिजन 10 अगस्त को बालोतरा थाने पहुंचे। बेटी की गुमशुदगी दर्ज करवाई। संदेह जताया कि बालोतरा का रहने वाला निजरान उर्फ बंटी (25) उसकी बेटी को भगाकर ले गया है। पुलिस उसकी तलाश शुरु करती, उससे पहले ही लड़के के परिजन भी थाने पहुंच गए। जिन्होंने निजरान के लापता होने के बारे में पुलिस को बताया।

दोनों परिवार मिलकर ढूंढ रहे

निजरान उर्फ बंटी पहले से शादीशुदा है। वह दो बच्चों का पिता है। बताया जा रहा है कि निजरान पिछले काफी समय से एक युवती के साथ रह रहा था। जिसके बारे में निजरान के परिवार को पता था। थाने पहुंचे युवती के परिजनों ने पुलिस को कहा कि हमें हमारी बेटी चाहिए। वहीं, थाने पहुंची निजरान की पत्नी ने पुलिस को कहा मुझे मेरा पति चाहिए। पति को ढूंढकर वापस लाया जाए। जिसके बाद दोनों परिवार मिलकर तलाश में जुट गए।

157 किलोमीटर दूर पहुंचे, फिर भी नहीं लगे हाथ

सिरोही पुलिस ने दोनों की लॉकेशन निकलवाई। सिरोही के कोतवाली इलाके में स्थित एक मकान में दोनों युवक-युवती की लॉकेशन मिली। जिसके आधार पर परिजन 157 किलोमीटर दूर सिरोही आ पहुंचे। कोतवाली थाने से मदद लेकर युवक-युवती की तलाश में शुक्रवार दोपहर करीब 2 बजे मकान पर दबिश दी गई, लेकिन उससे पहले ही लिव-इन में रहने वाले युवक-युवती भाग निकले। जिसके बाद पुलिस व परिजनों को वहां से खाली हाथ लौटना पड़ा।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*