On getting credit to Congress MLA, MP Nihalchand said – Project delayed by two years due to government’s apathy and departmental laxity | कांग्रेस विधायक को क्रेडिट मिलने पर सांसद निहालचंद बोले – सरकार की उदासीनता और विभागीय ढिलाई के कारण दो साल लेट हुआ प्रोजेक्ट


हनुमानगढ़एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
हनुमानगढ़ का राजीव गांधी स्टेडियम। - Dainik Bhaskar

हनुमानगढ़ का राजीव गांधी स्टेडियम।

हनुमानगढ़ के राजीव गांधी स्टेडियम में बनने वाले मल्टीपर्पज इंडोर हॉल को लेकर राजनीति तेज हो गई है। राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद की ओर से 3 करोड़ 99 लाख रुपए की लागत से हॉल के निर्माण की प्रशासनिक व वित्तीय स्वीकृति जारी की गई थी। श्रीगंगानगर सांसद निहालचंद ने निर्माण में देरी की वजह प्रदेश सरकार की उदासीनता को बताया है। खास बात यह है कि इसे लेकर गुरुवार को स्वीकृति जारी होने के बाद पूरा श्रेय हनुमानगढ़ विधायक चौधरी विनोद कुमार को दिया गया। शुक्रवार को सांसद निहालचंद ने इस मामले को लेकर अपना पक्ष रखा है। सांसद निहालचंद की ओर से जारी बयान में कहा गया कि प्रदेश सरकार और खेल विभाग की उदासीनता के कारण इस बहुप्रतीक्षित और जिले के लिए बेहद जरुरी इंडोर स्टेडियम के निर्माण की वित्तीय और प्रशासनिक स्वीकृति में 2 वर्ष की देरी हो गई है।

सरकार ने खेलो इंडिया योजना के तहत वर्ष 2019 में राजीव गांधी खेल स्टेडियम में इस मल्टीपर्पज इंडोर हॉल के निर्माण को मंजूरी दे दी थी। इसके लिए 3 करोड़ 99 लाख रुपए की वितीय स्वीकृति जारी की गई थी। जिसका हस्तांतरण दो किश्तों में राज्य सरकार को किया जाना था। केंद्र सरकार ने 2 करोड़ रुपए की पहली किश्त का हस्तांतरण वर्ष 2019 में कर दिया। इसके बाद प्रदेश सरकार व राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद की उदासीनता और विभागीय ढिलाई के कारण इंडोर स्टेडियम के निर्माण में लगभग 2 साल की देरी हो गई। सांसद निहालचंद ने आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार की उदासीनता के चलते ही खिलाडियों को खुले आसमान के नीचे प्रैक्टिस करने को मजबूर होना पड़ रहा है।

गौरतलब है कि वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले सांसद निहाल चन्द ने हनुमानगढ़ की जनता से राजीव गांधी खेल स्टेडियम में मल्टीपर्पज इंडोर हॉल के निर्माण और केंद्र सरकार से बजट मंजूर करवाने का वादा किया था। अब इसका श्रेय लेने की होड़ शुरु हो गई है। हॉल बनने के बाद बैडमिंटन, बॉक्सिंग, हैंडबॉल, जिम्नास्टिक, वॉलीबॉल, बास्केटबॉल, जूडो, कुश्ती, ताइक्वांडो सहित कई खेलों के खिलाडि़य़ों को फायदा होगा।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*