Chief Minister Shivraj Singh Chouhan inaugurated 4 oxygen plants in Rewa | रीवा में 4 ऑक्सीजन प्लांटों का शुभारंभ, 1700 लीटर प्रति मिनट ऑक्सीजन भरने की क्षमता, CM बोले- विंध्य को विकास की दौड़ में पिछड़ने नहीं देंगे


रीवा2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
वर्चुअली लोकार्पण करते शिवराज सिंह चौहान - Dainik Bhaskar

वर्चुअली लोकार्पण करते शिवराज सिंह चौहान

  • रीवा ऑक्सीजन में आत्मनिर्भर, जन सहयोग, पीएम केयर फंड व मुख्यमंत्री राहत कोष के माध्यम से हुई प्लांटों की स्थापना

रीवा जिले में चार ऑक्सीजन प्लांटों का वर्चुअल माध्यम से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोकार्पण किया है। जिनकी कुल क्षमता 1700 लीटर प्रति मिनट ऑक्सीजन भरने की है। वर्चुअली लोकार्पण करते समय सीएम ने कहा कि कोरोना संकट का भयानक दौर भूलता नहीं है। जब ऑक्सीजन की बहुत अधिक मांग थी तब भी रीवा में ऑक्सीजन की कमी नहीं होने पाई।

रीवा में चार अलग-अलग तरह के प्रयास करके 4 ऑक्सीजन प्लांट स्थापित कर विकास की नई इबारत लिखी गई है। अब रीवा ऑक्सीजन में आत्मनिर्भर हो रहा है। रीवा ने विभिन्न संसाधनों, जन सहयोग, पीएम केयर फंड व मुख्यमंत्री राहत कोष के माध्यम से ऑक्सीजन प्लांटों की स्थापना की गई है।

स्वागत भाषण देते रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल

स्वागत भाषण देते रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल

मुख्यमंत्री ने कहा कि रीवा और विन्ध्य को विकास की दौड़ में पिछड़ने नहीं दिया जायेगा। हम एक साल का रोडमैप बनाकर आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का निर्माण करेंगे। इसके लिये आत्मनिर्भर विन्ध्य और आत्मनिर्भर रीवा का विकास किया जायेगा। लंबे समय तक विन्ध्य को उपेक्षा का दंश झेलना पड़ा। इसकी भरपाई ब्याज सहित की जायेगी। विन्ध्य और रीवा को विकास के मार्ग में आगे बढ़ाने के लिये सदैव प्रयास किया जायेगा। हमारी सरकार ने विन्ध्य को बाणसागर बांध, अच्छी सड़कों, सोलर प्लांट, कई उद्योगों की सौगात दी है। शीघ्र ही विन्ध्य को हवाई सेवा की भी सौगात मिलेगी।

कैंसर रिसर्च सेंटर व कन्या विवि की मांग
समारोह में वर्चुअली शामिल होते हुए विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने कहा कि मुख्यमंत्री के संकल्प और अथक प्रयासों से ही विन्ध्य ही नहीं प्रदेश में कोरोना के संकट से मुक्ति मिली। विधानसभा अध्यक्ष ने रीवा में कैंसर रिसर्च सेंटर व कन्या विश्वविद्यालय शुरू करने का सुझाव दिया। समारोह में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि रीवा जिला टीकाकरण में प्रदेश में दूसरे स्थान पर है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने रीवा में ऑक्सीजन प्लांट लगाने से सुविधाओं में वृद्धि होगी। समारोह में सांसद जनार्दन मिश्र ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में कोरोना से लड़ने का जो जनभागीदारी मॉडल बनाया गया। वह देश के लिये आदर्श बना।

अब हनुमना और त्योंथर में लगेगा ऑक्सीजन प्लांट
रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि कोरोना संकट में जब 500 लोगों का जीवन दांव पर लगा था। तब मुख्यमंत्री के विशेष प्रयासों से रीवा को ऑक्सीजन की आपूर्ति हुई। मुख्यमंत्री ने जिस सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल का 2020 में लोकार्पण किया। वह कोरोना संकट में सबसे मददगार साबित हुआ। ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिये प्रशासन, जनप्रतिनिधियों, उद्योगपतियों तथा समाजसेवियों ने मिलकर प्रयास किया, जिसके फलस्वरूप चार प्लांटों का लोकार्पण किया जा रहा है। कहा, अब हनुमना और त्योंथर में ऑक्सीजन प्लांट शीघ्र ही शुरू हो जायेंगे। रीवा को हवाई सेवा की सौगात देने के लिये मुख्यमंत्री के विशेष प्रयासों के लिये ह्रदय से आभार व्यक्त किया।

चोरहटा में रखा गया था कार्यक्रम
ऑक्सीजन संयंत्रों का लोकार्पण समारोह चोरहटा औद्योगिक विकास केन्द्र में आयोजित किया गया। चोरहटा में वर्षम कॉन्स्ट्रशन द्वारा 310 लाख की लागत से 500 एलपीएम का प्लांट व जन सहयोग से 98.71 लाख की लागत से सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल में स्थापित 500 एलपीएम के प्लांट का लोकार्पण हुआ। वहीं मुख्यमंत्री राहत कोष से 44.72 लाख की लागत से जिला अस्पताल में 200 एलपीएम और जेपी प्लांट रीवा में 235 लाख की लागत से 500 एलपीएम के प्लांट का लोकार्पण किया गया। समारोह में विधायक त्योंथर श्यामलाल द्विवेदी, विधायक सेमरिया केपी त्रिपाठी, कलेक्टर इलैयाराजा टी, एसपी राकेश सिंह, एडीएम इला तिवारी, वर्षम कॉन्सट्रक्शन के विजय मिश्रा व राजेश तिवारी, मेडिकल कालेज के डीन मनोज इंदुरकर, जेपी समूह के प्रतिनिधि आलोक गौर उपस्थित रहे। समारोह का समापन कमिश्नर अनिल सुचारी द्वारा आभार प्रदर्शन से हुआ।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*