Train will start running at a speed of 160 kmph in 2024 on Delhi-Mumbai route | दिल्ली-मुंबई रूट पर 2024 में 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ने लगेगी ट्रेन


रतलाम6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
निरीक्षण कर उपकरणों की जानकारी लेते हुए महाप्रबंधक कंसल। - Dainik Bhaskar

निरीक्षण कर उपकरणों की जानकारी लेते हुए महाप्रबंधक कंसल।

  • दो दिनी निरीक्षण पर आए परे महाप्रबंधक आलोक कंसल ने किया दावा

तीन साल में दिल्ली-मुंबई रूट पर ट्रेन 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पर दौड़ने लगेगी। रेलवे ने दिल्‍ली-मुंबई और दिल्‍ली-हावड़ा कॉरिडोर की स्पीड 160 किमी प्रति घंटे करने की मंजूरी दी है। इसका टारगेट 2024 तक पूरा करने का है। इसे 160 किमी करने के लिए रतलाम, वडोदरा, अहमदाबाद मंडल में काम भी शुरू हो गया है। यह बात पश्चिम रेलवे महाप्रबंधक आलोक कंसल ने बुधवार को मीडिया से चर्चा करते हुए कही। मंडल के दो दिनी निरीक्षण पर आए महाप्रबंधक कंसल ने बताया अभी रतलाम मंडल के सिर्फ नागदा-रतलाम-गोधरा रेल खंड की अधिकतम स्पीड 130 किमी प्रति घंटे की है। रतलाम-गोधरा सेक्शन में सेफ्टी के मद्देनजर गोलाई, कर्व और घाट होने से स्पीड लिमीट लगाई है। 160 किमी रफ्तार होने पर भी यह सेफ्टी लिमिट जारी रहेगी। कोरोना महामारी के दौरान भी मंडल के स्टाफ ने जबरदस्त काम किया।

रेलवे ने 9700 टन ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेन से देश के 13 राज्यों में भेजी। पश्चिम रेलवे जोन के सभी सात अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लग गए हैं। अब ऑक्सीजन की कमी नहीं होगी। कोरोना से मृत कर्मचारियों के प्रकरणों में 95 प्रतिशत अनुकंपा नियुक्ति हो चुकी है। इसके अलावा अन्‍य सेटलमेंट भी लगभग पूरे हो चुके हैं। इस दौरान मंडल रेल प्रबंधक विनीत गुप्ता साथ रहे।

स्व-चलित निरीक्षण यान का उद्घाटन किया

इसके पहले सुबह परे महाप्रबंधक आलोक कंसल ने कई नई सुविधाओं की शुरुआत की। इनमें स्टेशन पर सेल्फ प्रोपाइल्ड इंस्पेक्शन कार, रेलवे अस्पताल के ऑक्सीजन प्लांट, मॉड्यूलर ऑपरेशन थियेटर व डीजल शेड में क्‍वालिटी एश्‍यूरेंस सेल, मॉडल रूम का उद्घाटन किया। इसके बाद मंडल समिति कार्यालय में अफसरों से विभिन्न प्रोजेक्ट पर बात की तो शाम को नए इंस्पेक्शन कार से रतलाम-पालिया तक विंडो ट्रेलिंग निरीक्षण किया।

ऐसे चला दिनभर महाप्रबंधक का दौरा

  • निरीक्षण यान का उद्घाटन- स्‍टेशन पर महाप्रबंधक ने नवनिर्मित स्‍व-चालित निरीक्षण यान (सेल्फ प्रोपाइल्ड इंस्पेक्शन कार) परख का उद्घाटन किया। यह मंडल का पहला एसपीआईसी है जिसमें सिर्फ एक डिब्बा है। अलग इंजन की जरूरत भी नहीं पड़ती। इनबिल्ट इंजन के कारण किसी भी समय दोनों तरफ चलने में सक्षम।
  • रेलवे चिकित्सालय – 500 लीटर प्रति मिनट उत्‍पादन क्षमता वाले ऑक्सीजन प्‍लांट, मोड्यूलर ऑपरेशन थियेटर, पोर्टेबल एक्‍स-रे मशीन का उद्घाटन किया। इसके अलावा पहले से लगे ऑक्सीजन प्‍लांट, मेल वार्ड, आईसीयू, स्‍टोर, फिजियोथैरेपी रूम, ओपीडी की व्यवस्था देखी।
  • डीजल शेड में भी महाप्रबंधक ने डीजल ट्रैक्‍शन ट्रेनिंग सेंटर में विद्युत लोको मोडल रूम सहित विभिन्न व्यवस्था देखी। बिजली इंजन के मोडिफिकेशन से कैसे आय बढ़ाई जा सकती है, इसका पॉवर पाॅइंट प्रजेंटेशन भी दिया।

आज डॉ. आंबेडकर नगर स्टेशन का निरीक्षण करेंगे जीएम : गुरुवार को महाप्रबंधक आलोक कंसल सुबह 9.15 बजे डॉ. आंबेडकर नगर पहुंचेंगे। स्टेशन के निरीक्षण के बाद 11.25 बजे से डॉ. आंबेडकर नगर-कालाकुंड सेक्शन का विंडो ट्रेलिंग निरीक्षण। कालाकुंड पहुंचकर खंडवा-महू गेज परिवर्तन का अपडेट लेंगे।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*