The relatives had gone to get the patient referred, the doctor refused; clashes with the media | मरीज को रेफर करवाने गए थे परिजन, डॉक्टर ने कर दिया इंकार; मीडिया से भी हुई नोकझोंक


मऊ41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
मऊ में अस्पताल में मरीज को रेफर करनवाने को लेकर डॉक्टरों और मरीज के परिजनों के बीच हुई नोकझोंक। बाद मे मीडियाकर्मियों के पहुंचने पर रेफर हुआ मरीज। - Dainik Bhaskar

मऊ में अस्पताल में मरीज को रेफर करनवाने को लेकर डॉक्टरों और मरीज के परिजनों के बीच हुई नोकझोंक। बाद मे मीडियाकर्मियों के पहुंचने पर रेफर हुआ मरीज।

मऊ में एक डॉक्टर का एक मरीज के परिजनों से विवाद हो गया। वह लोग घायल मरीज को रेफर करवाने के लिए इमरजेंसी के डॉक्टर के पास गए। जहां उसने रेफर करने से मना कर दिया। दोनों पक्षों में इसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। मौके पर पहुंचे मीडियाकर्मियों के साथ भी डॉक्टर ने बदसलूकी की है।

भाजपा जिलाध्यक्ष का बड़ा भाई है डॉक्टर
मामला मऊ जिले के सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड का है। मुकेश राजभर ने अपने चाचा गोविंद राजभर को यहां भर्ती करवाया था। वह एक एक्सीडेंट में घायल हो गया था। उन्हें ड्रिप फर्स्ट ऐड कर दिया गया था। उसे रेफर करवाने के लिए वह लगो इमरजेंसी में तैनात चिकित्सक डॉ अरुण कुमार गुप्ता के पास गए। उसने रेफर करने से मना कर दिया। इसी बात पर परिजन और डॉक्टर में नोकझोंक हो गई।

मीडिया से भी हुई झड़प
परिजनों ने इसकी सूचना मीडिया को दे दी। जिसके बाद मौके पर आए मीडियाकर्मियों से भी डॉ गुप्ता की नोकझोंक हुई। जिसके बाद मरीज को रेफर कर दिया गया। भारतीय जनता पार्टी के वर्तमान में जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार गुप्ता के बड़े भाई हैं डॉ अरुण कुमार गुप्ता।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*