Flight sought from Gwalior to Surat, Dehradun and Goa, said – this will give impetus to business | ग्वालियर से सूरत, देहरादून और गोवा के लिए मांगी फ्लाइट, बोले- इससे व्यवसाय को गति मिलेगी


ग्वालियर6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

फाइल फोटो

  • मध्य प्रदेश चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के पदाधिकारियों ने की है मांग

ज्योतिरादित्य सिंधिया के केन्द्रीय नागरिक उड्‌डयन मंत्री बनते ही ग्वालियर की हवाई सेवाओं का विकास तेजी से हो रहा है। अब व्यापारिक संस्था मध्य प्रदेश चेंबर ऑफ कॉमर्स ने ग्वालियर से सूरत, ग्वालियर से देहरादून और ग्वालियर से गोवा के लिए फ्लाइटस की मांग की है। व्यापारियों ने केन्द्रीय मंत्री सिंधिया को पत्र लिखकर यह मांग की है। साथ ही कहा है कि इससे ग्वालियर में व्यवसाय और उद्योगों को गति मिलेगी।

ग्वालियर अंचल के व्यवसायियों एवं उद्योगपतियों सहित आम यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए ग्वालियर से सूरत, देहरादून एवं गोवा के लिए भी विमान सेवा प्रारम्भ किए जाने की मांग MPCCI (मध्य प्रदेश चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज) द्वारा पत्र के माध्यम से केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य जी सिंधिया से की है ।

MPCCI के अध्यक्ष-विजय गोयल, संयुक्त अध्यक्ष-प्रशांत गंगवाल, उपाध्यक्ष-पारस जैन, मानसेवी सचिव-डॉ. प्रवीण अग्रवाल, मानसेवी संयुक्त सचिव-ब्रजेश गोयल एवं कोषाध्यक्ष-वसंत अग्रवाल बताया कि ग्वालियर से सूरत, देहरादून एवं गोवा के मध्य वर्तमान में ट्रेन संख्या कम होने से यात्रियों को आने जाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही इस यात्रा में समय भी काफी लगता है। यहां का 90 फीसदी साड़ी का बाजार सूरत के बाजारों पर निर्भर करता है। व्यापारियों को अक्सर आना जाना पड़ता है। ग्वालियर शहर सहित अंचल के हजारों व्यवसायी नियमित रूप से ग्वालियर से सूरत, देहरादून एवं गोवा आते जाते हैं। बावजूद इसके ग्वालियर से इन शहरों के लिए एयर कनेक्टिविटी नहीं होने के कारण शहर के व्यापारियों एवं उद्योगपतियों को देश के इन बड़े शहरों में आने-जाने में काफी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है ।

अभी यहां के लिए चल रहीं फ्लाइट

  • अभी ग्वालियर से पुणे, ग्वालियर से मुम्बई, ग्वालियर से अमदाबाद, ग्वालियर से कोलकाता, ग्वालियर से जम्मू, ग्वालियर से बैंगलुरू के लिए सीधी फ्लाइटस हैं। जल्द ही यहां एयरपोर्ट का विस्तार होने पर आधा दर्जन शहरों के लिए फ्लाइटस चलाया जाना प्रस्तावित है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*