To teach the unemployed, they are giving only three and a half hundred rupees every hour by making a guest, government teachers are taking three times this | बेरोजगारों को पढ़ाने के लिए गेस्ट बनाकर दे रहे हैं महज हर घंटे के साढ़े तीन सौ रुपए, सरकारी शिक्षक ले रहे इससे तीन गुना


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • To Teach The Unemployed, They Are Giving Only Three And A Half Hundred Rupees Every Hour By Making A Guest, Government Teachers Are Taking Three Times This

बीकानेरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

अगर आप किसी स्कूल में एक पीरियड पढ़ाने के लिए जा रहे हैं तो साढ़े तीन सौ से चार रुपए के बीच भुगतान मिल सकता है। एक मजदूर से भी कम भुगतान उन गेस्ट टीचर्स को किया जाएगा जो नौंवी से बारहवीं के स्टूडेंट्स को पढ़ा सकते हैं। मजे की बात है कि यह मेहनताना शिक्षा विभाग नहीं बल्कि स्वयं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग दे रहा है।

मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के तहत सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित ‘विद्या संबल योजना’ के तहत सेशन 2021-22 के लिए स्कूली हॉस्टल्स में कठिन विषयों की कोचिंग के लिए टीचर्स को गेस्ट फैकेल्टी लगाया जाएगा। इनकी नियुक्ति पूर्ण रूप से अस्थाई होगी।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एल.डी. पवार ने बताया कि संबंधित सेवा नियमों में अंकित योग्यता व पात्रता रखने वाले सेवानिवृत्त कार्मिक तथा निजी अभ्यर्थियों को गेस्ट फैकल्टी के रूप में लगाया जाएगा। कक्षा 9 व 10 के लिए गेस्ट फैकल्टी को 350 रुपए प्रति घंटा मानदेय दिया जाएगा। ये भुगतान अधिकतम 25 हजार रुपए मासिक से ज्यादा नहीं होगा। वहीं कक्षा 11 व 12 के लिए 400 रुपए प्रतिमाह घंटा दिया जायेगा। अधिकतम 30 हजार रुपए मासिक देय होगा। इसके लिए प्रस्ताव व आवेदन उप निदेशक सामाजिक एवं न्याय अधिकारिता विभाग के जिला कार्यालय में आमंत्रित किए गए हैं।

हर रोज तीन पीरियड

इन होस्टल्स में पढ़ाने के लिए टीचर्स को रोज अधिकतम तीन पीरियड का ही भुगतान मिल सकता है। दरअसल, नौंवी व दसवीं के स्टूडेंट्स को 71 पीरियड देने पर 25 हजार रुपए का भुगतान बनता है। इतने पीरियड पूरे महीने में 25 दिन स्कूल लगने पर हर रोज तीन पीरियड भी नहीं होते। ऐसे में ग्रामीण क्षेत्रों में बने होस्टल्स में तो कोई जाने के लिए तैयार ही नहीं होगा।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*