The youths sitting outside the house were beaten up, beaten and broke the stick, the victims created a ruckus | घर के बाहर बैठे युवकों की जमकर पिटाई, मार-मार कर तोड़ दिया डंडा, पीड़ितों ने किया हंगामा, कहा- नशे में धुत था दरोगा


आगरा35 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
आगरा के शाहगंज के वायु विहार क� - Dainik Bhaskar

आगरा के शाहगंज के वायु विहार क�

आगरा के थाना शाहगंज क्षेत्र में एक कालोनी में घर के बाहर बैठे लोगों को वहां किराए पर रहने वाले दरोगा ने जमकर पीटा और गालियां दी।दरोगा की दबंगई के आगे पूरी कालोनी एक जुट हो गई और हंगामा शुरू कर दिया। लोगों का आरोप है कि दरोगा शराब के नश्शे में था। लोगों ने दरोगा के वीडियो बनाकर वायरल कर दिए। पीड़ितों की शिकायत पर एसएसपी ने जांच कर कार्रवाई की बात कही है। वहीं, थाना पुलिस युवकों द्वारा शराब पीने से मना करने पर दरोगा से अभद्रता की बात कह रही है।

पीड़ित ने बताई आपबीती

थाना शाहगंज के वायु विहार अंतर्गत एच आर सी होरिजन कालोनी में थाना शाहगंज में तैनात दरोगा आकाश सोलंकी किराए पर कमरा लेकर रहता है। पीड़ित लवकुश अग्रवाल के अनुसार वो दवाओं का काम करता है।बीती रात साढ़े दस बजे के लगभग वो और कालोनी के दो युवक घर के बाहर बैठकर 15 अगस्त को कालोनी में ब्लड डोनेशन कैम्प लगाने के लिए रूपरेखा तैयार कर रहे थे।इस दौरान वहां दरोगा आकाश सोलंकी शराब पीकर आये और अचानक कार की लाइट उनके ऊपर मारी। वो लोग कुछ समझ पाते कि दरोगा गाड़ी से डंडा निकाल कर लाया और तीनों को पीटना शुरू कर दिया।

पुलिस बुलाई तो और पीटा

लवकुश अग्रवाल ने बताया कि उन लोगों ने 112 पर सूचना दी।इसके बाद जब वहां पुलिस आई तो दरोगा का पारा चढ़ गया और पुलिसकर्मियों के सामने भी उनकी पिटाई की।इतना मारा की उनका डंडा तीन जगह से टूट गया।

कॉलोनी वासियों का फूटा गुस्सा

अपनी कालोनी के बच्चों को अकारण पिटता देख कॉलोनी वासियों का गुस्सा फूट पड़ा और लोगों ने दरोगा की वीडियो बनाई और हंगामा शुरू कर दिया।इस पर पुलिसकर्मियों ने कार्रवाई का आश्वासन देकर वीडियो ले लिए पर कुछ किया नहीं। पीड़ित युवक बार-बार पुलिस से अपना और दरोगा का मेडिकल करवाने की बात कह रहे हैं पर शिकायत के बावजूद पुलिस ने मेडिकल नहीं कराया है।

एसएसपी ने कही जांच की बात

पीड़ितों द्वारा एसएसपी मुनिराज के सीयूजी नम्बर पर कॉल करके घटना की जानकारी दी। एसएसपी ने जानकारी कर कार्रवाई का भरोसा दिलाया है। वहीं थाना प्रभारी शाहगंज सतेंद्र राघव का कहना है कि युवकों को शराब पीने से रोका गया था।मारपीट नहीं की गई है,हालांकि दोनों पक्षों का मेडिकल क्यों नहीं कराया गया इस बात का उन्होंने जवाब नहीं दिया।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*