If the girlfriend did not cook food for the lover, then the lover had committed the murder along with his friend in anger, the SSP disclosed | प्रेमिका ने प्रेमी के लिए खाना नहीं बनाया था तो गुस्से में कर दी थी हत्या, पुलिस ने हत्यारे और उसके साथी को गिरफ्तार किया


  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • If The Girlfriend Did Not Cook Food For The Lover, Then The Lover Had Committed The Murder Along With His Friend In Anger, The SSP Disclosed

झांसीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
मृतका ने अपने पति गनेश राजपूत और बच्चों को छोड़ दिया था। इसके बाद वह अपने प्रेमी मूलचन्द्र के साथ सूर्यपुरम में किराए से रहने लगी थी। पकड़े गए आरोपी ने बताया कि मूलचन्द्र और मृतका के बीच अवैध सम्बंध थे। - Dainik Bhaskar

मृतका ने अपने पति गनेश राजपूत और बच्चों को छोड़ दिया था। इसके बाद वह अपने प्रेमी मूलचन्द्र के साथ सूर्यपुरम में किराए से रहने लगी थी। पकड़े गए आरोपी ने बताया कि मूलचन्द्र और मृतका के बीच अवैध सम्बंध थे।

झांसी के सीपरी बाजार थाना क्षेत्र में महिला की गला दबाकर की गई महिला की हत्या सिर्फ इसलिए की गई थी, क्योंकि उसने अपने प्रेमी के लिए खाना नहीं बनाया था। जिसकी वजह से प्रेमी को गुस्सा आ गया और उसने अपने साथी के साथ मिलकर महिला की हत्या कर दी थी। सीपरी बाजार पुलिस ने बुधवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

खाना नहीं बनाया को प्रेमी ने हत्या कर दी
एसएसपी ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि 6 अगस्त को सूर्यपुरम कालोनी में धर्मेंद्र यादव के मकान में किराए से रहने वाली 35 वर्षीय क्रांति उर्फ सुखदेवी की हत्या कर दी गई थी। मृतका के पति गणेश राजपूत ने अज्ञात लोगों के खिलाफ सीपरी बाजार थाने में लिखित शिकायत करते हुए एफआईआर दर्ज कराई थी। पुलिस जांच में महिला के अवैध संबंधों के बारे में जानकारी मिली। जिसके बाद बुधवार को पुलिस को सूचना मिली कि सुखलाल निवासी खाती बाबा खोडन भी इस मामले में लिप्त है। सुखलाल से पूछताछ की गई तो उसने बताया मृतका क्रांति के ओरझा चे रजपुरा के रहने वाले मूलचन्द्र से अवैध संबंध थे। मृतका व मूलचन्द्र एक साथ मजदूरी करते थे।
घटना वाले दिन भी मृतका के साथ दोनों ने शराब पी। जब मूलचन्द्र ने उससे खाना बनाने को कहा तो उसने मना कर दिया। इसी बात को लेकर विवाद हो गया। इसी दौरान मूलचन्द्र ने गमछे से क्रांति का गला घोंट दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। घटना के समय सुखलाल ने भी मूलचन्द्र का सहयोग किया।

बच्चों को पैसे देने को लेकर भी हुआ था झगड़ा
मृतका ने अपने पति गनेश राजपूत और बच्चों को छोड़ दिया था। इसके बाद वह अपने प्रेमी मूलचन्द्र के साथ सूर्यपुरम में किराए से रहने लगी थी। पकड़े गए आरोपी ने बताया कि मूलचन्द्र और मृतका के बीच अवैध सम्बंध थे। दोनों मजदूरी करते थे और शराब भी पीते थे। इसके अलावा मृतका अपनी मजदूरी के रुपए अपने पहले के बच्चों को भेजती थी। जिसको लेकर मृतका और मूलचन्द्र के बीच अक्सर झगड़ा होता था। घटना के दिन भी शराब पीने के बाद मृतका और मूलचन्द्र के बीच झगड़ा हुआ था। जिस पर सबक सिखाने के लिए मूलचन्द्र ने पकड़े गए आरोपी की मदद से उसकी गला दबाकर हत्या कर दी।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*