Cement businessmen were returning home from the car after recovering, stopped the car and returned after buying beer, the bag was missing from the car | वसूली कर कार से घर लौट रहे थे सीमेंट कारोबारी, कार रोक बीयर खरदीकर लौटे तो गाड़ी से गायब था बैग


  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gorakhpur
  • Cement Businessmen Were Returning Home From The Car After Recovering, Stopped The Car And Returned After Buying Beer, The Bag Was Missing From The Car

गोरखपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
सीमेंट कारोबारी रुपये वसूली कर तारामांडल इलाके में स्थित अपने मकान पर लौट रहे थे। रुस्तमपुर में वह बीयर खरीदने के लिए उतरे थे कि उसी दौरान यह वारदात हो गई। - Dainik Bhaskar

सीमेंट कारोबारी रुपये वसूली कर तारामांडल इलाके में स्थित अपने मकान पर लौट रहे थे। रुस्तमपुर में वह बीयर खरीदने के लिए उतरे थे कि उसी दौरान यह वारदात हो गई।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर​ जिले में सीमेंट कारोबारी की कार का शीशा तोड़कर चार लाख रुपये व अन्य सामानों से भरा बैग बदमाशों ने उड़ा दिया। घटना कैंट इलाके के रुस्तमपुर मुख्य हाईवे पर मंगलवार देर रात की है। सीमेंट कारोबारी रुपये वसूली कर तारामांडल इलाके में स्थित अपने मकान पर लौट रहे थे। रुस्तमपुर में वह बीयर खरीदने के लिए उतरे थे कि उसी दौरान यह वारदात हो गई। व्यवसायी की सूचना पर पहुंची कैंट पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है। आस-पास की दुकानों पर लगे सीसी टीवी कैमरों को पुलिस खंगाल रही है।

गाड़ी खड़ी कर बीयर लेने चले गए शिवप्रकाश
बेलघाट के रतनपुरा निवासी शिव प्रकाश मिश्रा की बेलघाट में जेड इंटर प्राइजेज के नाम से सीमेंट की एजेंसी है। मंगलवार की शाम करीब तीन बजे वह बेलघाट से निकले और इस दौरान रास्ते में विभिन्न बाजारों से वसूली करते हुए अपनी कार से गोरखपुर आ रहे थे। शिव प्रकाश ने बताया कि विभिन्न दुकानों से वसूली के उनके पास 4 लाख रुपये कैश और एक-एक लाख रुपये के दो चेक और लेजर बुक था। जिसे उन्होंने एक बैग में रखा था। तारामंडल इलाके में स्थित अपने घर लौटते समय रुस्तमपुर के पास मुख्य हाईवे पर बीयर की दुकान के सामने कार खड़ी कर बीयर खरीदने चले गए थे।

वापस आए तो कार का शीशी टूटा मिला
दुकान से लौटने पर उनकी कार का शीशा टूटा मिला और अंदर रखा बैग गायब था। शिव प्रकाश मिश्र ने 112 नम्बर पर फोन कर पुलिस को सूचना दी। सूचना के बाद इंस्पेक्टर कैंट सुधीर सिंह मौके पर पहुंच गए और उन्होंने अपने अधिकारियों को बताया जिसके बाद एसपी सिटी सोनम कुमार पहुंचे। एसपी सिटी ने शिव प्रकाश से घटना की पूरी जानकारी ली और यह भी पूछा कि उन्होंने यह रुपये किन दुकानों से वसूले थे।

वसूली करने वाले दुकानदारों भी की शुरू हुई पड़ताल
पुलिस ने उन सभी दुकानों के नाम नोट किए और आस-पास की दुकानों पर लगे सीसी टीवी कैमरे के जरिये घटना की पड़ताल शुरू कर दी है। शिव प्रकाश मिश्र ने बताया कि बैग में मौजूद लेजर बुक उनके लिए काफी जरूरी है। उसमें व्यापारियों से जुड़े सभी हिसाब हैं। वहीं चेक को वह बैंक में सूचना देकर भुगतान होने से रोक लगवा देंगे।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*